खास खबरछत्तीसगढ़

चलती बस के दरवाजे से अचानक सड़क पर गिर गया कंडक्टर,मौत

हादसे के बाद बस का ड्राइवर मौके से हो गया फरार, मौके पर जुटी भीड़ ने पुलिस को दी सूचना, परिजनों में पसर गया मातम

अंबिकापुर: बस का कंडक्टर दरवाजे पर खड़ा था। अचानक वह अनियंत्रित होकर सडक़ पर गिर गया। इसी बीच बस का पिछला पहिया उसके सिर पर चढ़ गया। हादसे में सिर कुचल जाने से मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

सूचना पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने शव बरामद कर पीएम के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल भिजवाया। इधर दुर्घटना के बाद बस चालक मौके से फरार हो गया। हादसे में मौत की खबर जैसे ही कंडक्टर के परिजनों को मिली, उनके मातम पसर गया। पुलिस मामले की विवेचना कर रही है।

बलरामपुर जिले के चांदो से अंबिकापुर व अंबिकापुर से चांदो तक गुप्ता बस क्रमांक सीजी 15 एबी-0292 आना-जाना करती है। इसमें ग्राम चांदो निवासी माखन यादव पिता रामकिशुन कंडक्टर था।

सोमवार की सुबह भी बस यात्रियों को चांदो से लेकर अंबिकापुर आने के लिए निकली थी। बस करीब 10 बजे अंबिकापुर-राजपुर मार्ग पर ग्राम असोला स्थित पेट्रोल पंप के पास पहुंची ही थी कि दरवाजे पर खड़ा कंडक्टर माखन यादव अचानक अनियंत्रित होकर सडक़ पर गिर गया।

ड्राइवर व यात्री कुछ समझ पाते, इससे पहले ही बस का पिछला पहिया उसके सिर पर चढ़ गया। इससे मौके पर ही उसकी दर्दनाक मौत हो गई। हादसे के बाद वहां काफी संख्या में लोगों की भीड़ जुट गई। उन्होंने दुर्घटना की सूचना कोतवाली पुलिस को दी।

हादसे के बाद ड्राइवर फरार

सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। इधर बस का ड्राइवर मौका देख वहां से फरार हो गया। पुलिस ने पंचनामा पश्चात शव को पीएम के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल भिजवाया। वहीं पुलिस की सूचना पर दोपहर में मृतक के परिजन अंबिकापुर पहुंचे। यहां शव देख उनका रो-रोकर बुरा हाल हो गया। वह बस से कैसे गिरा, इसका पता नहीं चल सका है।

दूसरे वाहनों से भेजे गए यात्री

बस का पहिया चढऩे से कंडक्टर की मौत के बाद यात्रियों के बीच अफरा-तफरी मच गई। सभी यात्रियों को उतारकर बस को खाली कराया गया। इसके बाद यात्रियों को दूसरे वाहनों से अंबिकापुर के लिए रवाना किया गया। पुलिस ने बस को जब्त कर चालक के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button