खास खबरखेल

महाराष्ट्र सरकार ने भारत रत्न सचिन तेंदुलकर की सुरक्षा सिक्योरिटी घटाई

महाराष्ट्र सरकार ने घटाई क्रिकेट के 'भगवान' सचिन तेंदुलकर की सिक्योरिटी

महाराष्ट्र. महाराष्ट्र में नई बनी शिव सेना-एनसीपी-कांग्रेस की सरकार ने भारत रत्न सचिन तेंदुलकर की सुरक्षा वापस ले ली है. इसके साथ ही मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के विधायक बेटे आदित्य ठाकरे का सुरक्षा स्तर बढ़ा दिया गया है.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे.

आदित्य को अभी तक वाई प्लस कैटिगरी की सुरक्षा मिली हुई थी. इसे बढ़ाकर Z श्रेणी की कर दी गई है. महाराष्ट्र में जेड श्रेणी की सुरक्षा पाने वालों में सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे का नाम भी शामिल हो गया है.

राज्य सरकार ने सुरक्षा समीक्षा के बाद यह फैसला लिया है. इस फैसले में सचिन की सुरक्षा हटा ली गई है. लेकिन मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की सुरक्षा अपग्रेड कर दी गई है.

अंग्रेजी अखबार ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ को महाराष्ट्र पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, ”सचिन को एक्स श्रेणी की सुरक्षा दी गई थी. इसके तहत एक पुलिस कॉन्स्टेबल चौबीसों घंटे उनके साथ रहता था. अब यह सुरक्षा वापस ले ली गई है.” आईपीएस अधिकारी ने दावा किया कि सचिन को पुलिस एस्कॉर्ट की सुविधा दी जा सकती है. अधिकारी ने बताया कि कई और नेताओं की भी सुरक्षा घटाई गई है. इसके तहत बीजेपी नेता एकनाथ खडसे को वाई श्रेणी सुरक्षा के साथ ही पुलिस एस्कॉर्ट की भी सुविधा थी. लेकिन समीक्षा के बाद अब एस्कॉर्ट की सुविधा हटा ली गई है.

महाराष्ट्र सरकार ने उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल राम नाईक की सुरक्षा को जेड प्लस से घटाकर एक्स कैटिगरी की कर दी है. इसके साथ ही मशहूर वकील उज्जवल निकम की भी जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा वापस ले ली गई है.

उन्हें एस्कॉर्ट के साथ वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गई है. नई सरकार ने समाजसेवी अन्ना हजारे की सुरक्षा बढ़ा दिया है. उन्हें अब तक वाई श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई थी. इसे अब बढ़ाकर जेड श्रेणी का कर दिया गया है. इस तरह महाराष्ट्र सरकार ने 97 लोगों के सुरक्षा की समीक्षा करते हुए 29 लोगों की सुरक्षा व्यवस्था को या तो कर दिया है या बढ़ा दिया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button