खास खबर

CAA: उत्तर प्रदेश राज्य में धारा 144 लागू, 21 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद, चप्‍पे-चप्‍पे पर पुलिस तैनात

एनआरसी को लेकर हुए विरोध प्रदर्शनों में भड़की हिंसा

उत्तर प्रदेश. पिछले दिनों सीएए (CAA) और एनआरसी को लेकर हुए विरोध प्रदर्शनों में भड़की हिंसा को देखते हुए राज्य सरकार पूरी सतर्कता बरत रही है. उत्तर प्रदेश डीजीपी, ओपी सिंह ने कहा, राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह से नियंत्रण में है, हम लगातार फोर्स की तैनाती कर रहे हैं. मामलों की जांज के लिए एसआईटी का गठन किया गया है.

उन्होंने कहा, हमने 21 जिलों में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया है. हालात के मुताबिक इन्हें फिर से लागू कर दिया जाएगा. ओपी सिंह ने कहा, हम बेगुनाह लोगों को नहीं छू रहे हैं लेकिन हम हिंसा में शामिल लोगों को छोड़ेंगे भी नहीं. यही कारण है कि हमने कई संगठनों के सदस्यों को गिरफ्तार किया है चाहे वह पीएफआई के हों या फिर राजनीतिक दलों के.

पुलिस की नजर जुमे की नमाज में एकत्र होने वाली भीड़ पर है.

पुलिस की नजर जुमे की नमाज में एकत्र होने वाली भीड़ पर है. इसको लेकर कई जिलों में अलर्ट जारी हो गया है. कहीं उपद्रवियों की तलाश में दबिश दी जा रही है तो कहीं आम लोगों की मदद से गुनाहगारों की पहचान की जा रही है. बरेली, गोरखपुर समेत कई जगहों पर पुलिस ने गुरुवार को फ्लैग मार्च किया.

सरकारी संपत्ति को हुए नुकसान की भरपाई के लिए प्रशासन तोड़फोड़ और आगजनी करने वालों को नोटिस भेज रहा है. पुलिस ने अफवाह को लेकर संभ्रांत लोगों के साथ धर्मगुरुओं से अफवाह की खंडन करने की अपील की. सभी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की.

लखनऊ में भी जिला प्रशासन सतर्क है. यहां पर मुस्लिम धर्मगुरुओं ने जुमे की नमाज को लेकर शांति की अपील की है. मौलाना ने रामगंज, मुफ्ती गंज व हुसैनाबाद में दौरा किया. इन लोगों ने सभी से शांति व अमन बनाने की अपील की है. यहां मौलाना कल्बे जव्वाद, मौलाना रजा हैदर, मौलाना रजा हुसैन के साथ मौलाना कमरुल हसन ने शांति की अपील की. उधर, धर्मगुरु फिरंगी महली ने लोगों से शांति व्यवस्था बहाल रखने के लिए लोगों को एक दिन रोजा रखने की अपील की है.

327 केस दर्ज, 113 गिरफ्तार

आईजी (कानून-व्यवस्था) प्रवीण कुमार ने बताया कि सीएए के खिलाफ 10 दिसंबर से अब तक प्रदेश के विभिन्न जिलों में प्रदर्शनों, आगजनी, तोड़फोड़ और पुलिस पर फायरिंग व अन्य घटनाओं में 327 मुकदमे दर्ज किए गए हैं. एक हजार 113 व्यक्ति गिरफ्तार किए गए और 5 हजार 558 लोगों को पुलिस ने लिया हिरासत में लिया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button