खास खबर

शरजील इमाम जैसे कीटाणुओं का जल्द से जल्द सफाया किया जाए: शिवसेना

शरजील इमाम का हाथ काटकर असम हाईवे पर रखें

नई दिल्ली. शिवसेना के मुखपत्र सामना में शरजील इमाम के खिलाफ की केंद्र सरकार द्वारा की गई कार्रवाई का समर्थन किया गया है. जिस तरह से जेएनयू के छात्र शरजील ने असम को भारत से अलग किए जाने की बात कही थी उसके बाद मंगलवार को शरजील को पुलिस ने बिहार से गिरफ्तार कर लिया था. गुरुवार को छपे सामना में सरकार की इस कार्रवाई का समर्थन करते हुए लिखा गया है कि शिवसेना गृहमंत्री अमित शाह को सुझाव देती है कि शरजील इमाम जैसे कीटाणुओं का जल्द से जल्द सफाया किया जाए.

शरजील का हाथ काटकर हाईवे पर रखें

सामना के संपादकीय में कहा गया है कि शरजील इमाम असम को भारत से अलग करना चाहता था. उसके हाथ को काटकर असम के चिकेन्स नेक हाईवे पर लोगों को देखने के लिए रखना चाहिए. गृहमंत्री अमित शाह को तुरंत शरजील जैसे कीटाणुओं को खत्म करना चाहिए. लेकिन इसके साथ ही अमित शाह को शरजील के नाम पर राजनीतिक नहीं करनी चाहिए. सामना में छपे संपादकीय में कहा गया है कि शरजील के बयान की वजह से देशभर में नागरिकता कानून के खिलाफ चल रहे शांतिपूर्ण प्रदर्शन को नुकसान पहुंचा है.

शरजील का बयान देश के खिलाफ

सामना में लिखा गया है कि पूरे देश में नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है, लेकिन किसी ने भी देश के खिलाफ कोई बयान नहीं दिया था. लेकिन शरजील इमाम ने जो बयान दिया है वह ना सिर्फ अपमानजनक है बल्कि देश सके खिलाफ भी है. शरजील इमाम जैसे लोगों की वजह से भाजपा के पास दिल्ली चुनाव में बिना कोई काम किए इस मुद्दे को उठाने को मौका मिलता है. शिवसेना ने दावा किया है कि देश की सामाजिक, धार्मिक एकता तकरीबन खत्म हो चुकी है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button