खास खबरदेश

लव मैरिज के बाद, एक महीने बाद खुला पत्नी की हत्या का राज

यह घटना वाकई में 21वीं सदी के मानव समुदाय को शर्मसार करने वाली है।

नई दिल्ली: चांद पर घर बसाने की ओर बढ़ रहा इंसान झूठी शान की खातिर अपनी ही बेटी की हत्या कर सकता है, यह घटना वाकई में 21वीं सदी के मानव समुदाय को शर्मसार करने वाली है। दरअसल, दिल्ली के न्यू अशोक नगर में माता-पिता ने अपनी ही बेटी की हत्या इसलिए हत्या कर दी, क्यों कि उसने अपनी मर्जी से अपने मनपसंद युवक से शादी की थी और वह पति के साथ जीवन भर रहना चाहती थी। मां-बाप को बेटी की यह इच्छा इस कदर नागवार गुजरी कि उन्होंने अपने रिस्तेदारों के साथ मिल बेहरमी से मार डाला। इसके बाद हत्या का छिपाने के मकसद से घटनास्थल से 80 किलोमीटर दूर अलीगढ़ की नहर में फेंक दिया था।मृतका इस हत्या में जान गंवाने वाली लड़की की मां, पिता, ताऊ, फूफा, फूफा का बेटा, रिश्तेदारी में ही लगने वाला एक अन्य दामाद भी शामिल है।

गिरफ्तारी के बाद आरोपितों ने बताया कि उनके परिवार की लड़की युवती ने परिवार को बताए बिना ही पड़ोस में रहने वाले एक युवक से युवक से शादी कर ली थी। समान गोत्र का लड़का होने की वजह से यह उन्हें नहीं भाया।

पुलिस ने शव का कर दिया था अंतिम संस्कार

दिल्ली पुलिस ने उत्तर प्रदेश पुलिस से संपर्क किया। वहां की पुलिस ने बताया कि गत 30 जनवरी को नहर से एक युवती का शव मिला था। शव की पहचान न हो पाने पर पुलिस ने दो फरवरी को अंतिम संस्कार कर दिया था। उप्र पुलिस के पास के जो कपड़े मिले, वह शीतल के ही थे।

शीतल को लगा था, शादी के लिए परिवार को मना लेगी

पति अंकित भाटी ने पुलिस को जानकारी दी कि मंदिर में शादी करने के बाद शीतल ने उससे कहा था कि अभी वह किसी को नहीं बताएंगे, यहां तक की अपने परिवार को भी नहीं। उसने कहा था कि अभी घर में कुछ कार्यक्रम हैं। इसके बाद वह अपने परिजन को मना लेगी, लेकिन उसकी यही सोच उसकी मौत का सबब बन गई। शीतल ने जब हिम्मत करके अपनी शादी की बात परिजनों को बताई तो वह भड़क गए। वह उस पर शादी तोड़ने का दबाव बनाने लगे। शीतल ने शादी तोड़ने से मना किया तो परिवार ने उसकी हत्या कर दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button