खास खबर

पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वाली अमूल्या की हत्या करने वाले को 10 लाख देने का ऐलान किया!

दस लाख का इनाम रखने वाले एक हिंदू संगठन के नेता के खिलाफ जांच शुरू

बेंगलुरु. नागिरकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर बेंगलुरु में चल रहे एक विरोध प्रदर्शन के दौरान मंच से ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने वाली स्टूडेंट एक्टिविस्ट अमूल्या लियोन की हत्या पर कथित तौर पर दस लाख का इनाम रखने वाले एक हिंदू संगठन के नेता के खिलाफ जांच शुरू की गई है.

खास खबर पर छपी खबर के अनुसार, पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी. बल्लारी पुलिस अधीक्षक सी. के. बाबा ने आईएएनएस से कहा, ‘हालांकि, अभी तक इस बारे कोई शिकायत नहीं आई है और ना ही मामला दर्ज किया गया है कि श्री राम सेना के नेता संजीव मराडी ने कथित तौर पर हत्या का ऑफर दिया था.

लेकिन, हम सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो की सत्यता की जांच कर रहे हैं और उसे पूछताछ के लिए बुलाया है.

बल्लारी बेंगलुरु से 31 किलोमिटर की दूरी पर स्थित है. मराडी और श्री राम सेना प्रमुख प्रमोद मुथालिक वीडियो क्लिप की प्रमाणिकता के बारे में बात करने के लिए उपलब्ध नहीं हो सके.

बाबा ने कहा, ‘यदि मराडी ने ऐसी बात कही है, तो हम उनके खिलाफ कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज करेंगे.’

वीडियो में कन्नड़ में मराडी कहता सुनाई दे रहा है, ‘बेंगलुरु रैली में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वाली अमूल्या की हत्या करने पर सेना आपको दस लाख रुपये देगी.’

गौरतलब है कि बेंगलुरु में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के विरोध में जारी प्रदर्शन के दौरान पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाने वाली अमूल्या के खिलाफ पुलिस ने राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया है.

नारेबाजी करते हुए अमूल्या का यह वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो गया था, जिसके बाद से लोगों ने इस पूरे घटनाक्रम पर कड़ी प्रतिक्रियाएं दी थी.

लोग ने ना सिर्फ युवती पर बल्कि ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) पार्टी के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी पर भी निशाना साधा क्योंकि घटना के वक्त वह भी मंच पर मौजूद थे. हालांकि, उन्होंने तुरंत इस नारेबाजी का विरोध किया था.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button