खास खबरछत्तीसगढ़देश

एसी, एसटी और ओबीसी बच्चों के लिए 378 करोड़ में बनेंगे 61 छात्रावास

- Chhattisgarh Budget 2020 LIVE

रायपुर, जेएनएन। छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार आज अपना दूसरा बजट पेश कर रही है। वित्तीय वर्ष 2020-21 का बजट भाषण सीएम भूपेश बघेल बतौर वित्त मंत्री विधानसभा में पढ़ रहे हैं। उन्होंने बजट में ऐलान करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरूअत होगी। राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव से पहले इस योजना का जिक्र किया था।

बता दें कि कर्ज की वजह से बढ़ते आर्थिक बोझ के बीच गरीबी, कुपोषण और आदिवासी क्षेत्रों को विकास की दौड़ में शामिल करना सरकार के लिए बड़ी चुनौती है।

Chhattisgarh Budget 2020 LIVE Update:

– राज्य में 9 पॉलिटेक्निक कॉलेजों का उन्न्यन किया जएगा इसके साथ ही तखतपुर में नया डेयारी पॉलिटेक्निक खोला जाएगा। कुपोषण को खत्म करने के लिए 60 करोड़ स्र्पये और राम वन पथ गमन मार्ग विकास के लिए 10 करोड़ स्र्पये का प्रावधान किया गया है: भूपेश बघेल

-युवा महोत्सव के आयोजन के लिए 5 करोड़ का प्रावधान, जैविक खेती विकार योजना के लिए 20 करोड़ रुपए का प्रावधान: भूपेश बघेल

– 16 हजार शिक्षाकर्मियों का संविलियन 1 जुलाई 2020 को किया जाएगा। सरकार मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान की शुरुआत करेगी: भूपेश बघेल

– आंगनबाड़ी केंद्रों में 25 करोड़, महतारी जतन योजना में 31 करोड़ का प्रावधान किया गया है: भूपेश बघेल- स्वास्थ्य योजना में 5 योजनाओं को शुरू किया गया। डॉ खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना में 5 लाख तक का लाभ दिया जाएगा। मुख्यमंत्री स्वास्थ्य योजना में प्रति व्यक्ति 20 लाख तक का प्रावधान है: भूपेश बघेल

– बेमेतरा और तखतपुर में डेरी डिप्लोमा कॉलेज की स्थापना की जाएगी। राजपुर धमदा में फिशरिज कॉलेज की स्थापना की जाएगी: भूपेश बघेल

– छत्तीसगढ़ में राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरूअत होगी। इसके लिए 5100 रुपये आवंटित किया गाया है: भूपेश बघेल

– छत्तीसगढ़ का बजट पेश करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि हमने 17 लाख किसानों का कर्ज माफ किया है।

– प्रदेश में गरीबी के स्तर में कमी आई है। प्रदेश की जीडीपी में सात फीसदी से अधिक की बढ़ोतरी होने का अनुमान है: भूपेश बघेल

– राशन कार्ड देने के लिए 3410 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। कोंडागांव में पायलट प्रोजेक्ट के लिए पांच करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है: भूपेश बघेल

– मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सवेरे अपने निवास से विधानसभा के लिए रवाना हुए। मुख्यमंत्री आज विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2020- 21 का बजट प्रस्तुत करेंगे। विधानसभा में कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में उनके अलावां नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, संसदीय कार्य मंत्री रविन्द्र चौबे सहित समिति के सदस्यगण उपस्थित थे।

वहीं, 37 फीसद से अधिक बच्चे कुपोषित और 41 फीसद से अधिक महिलाएं एनिमियां पीडि़त हैं। हालांकि सरकार ने इसके लिए योजनाएं शुरू की हैं। बजट का बड़ा हिस्सा सरकार को इन सेक्टरों को देना पड़ेगा।

राज्य पर कुल ऋण देयता जीएसडीपी का 21.68 प्रतिशत और ब्याज भुगतान राजस्व प्रााियों का 5.9 प्रतिशत है, जो सभी राज्यों से न्यूनतम है। इसी प्रकार कुल बजट में से कमिटेड व्यय मात्र 19.3 प्रतिशत है, जो की सभी राज्यों से न्यूनतम है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button