खास खबरदेश

Coronavirus India : बीते 24 घंटे में सामने आए 25 हजार से ज्यादा नए मामले

महाराष्ट्र और तमिलनाडु में सबसे ज्यादा मरीज

Coronavirus India : भारत में लगातार कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। बीते गुरुवार को 1 दिन में 25000 नए मामले सामने आए। जिन्होंने एक नया रिकॉर्ड खड़ा कर दिया।

covid19india.org के मुताबिक, भारत में बीते गुरुवार को 25000 से ज्यादा नए मामले सामने आए यह पहली बार है। जब देश में एक नया रिकॉर्ड सामने आया है। वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने 3 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा कर दी है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सबसे ज्यादा खराब हालत महाराष्ट्र और तमिलनाडु की है। महाराष्ट्र में गुरुवार को 6875 और तमिलनाडु में 4231 नए केस सामने आए। जबकि भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 7 लाख 94 हजार 196 हो चली है।

हालांकि, रिकवर होने वाले लोगों की संख्या अब तक 495909 हो चुके हैं। बीते गुरुवार को 19356 लोग ठीक हुए। वहीं दूसरी तरफ अब तक 21622 लोगों की मौत हो चुकी है।

वहीं दूसरी तरफ देश में अब तक एक्टिव मामलों की संख्या 276564 हो गई है जिसमें से अब तक बीते 24 घंटे में 478 लोगों की मौत हो चुकी है।

नया रिकॉर्ड बनने के दौरान केंद्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने दावा किया है कि देश में कोरोना वायरस का अभी कमिटी ट्रांसमिशन नहीं हुआ है।

लेकिन वहीं दूसरी तरफ अब लगातार जो लोग कोरोना संक्रमण से ठीक हो रहे हैं। वह अपना प्लाज्मा डोनेट कर रहे हैं। इसमें बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भी शामिल हो गए हैं।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने प्रेस वार्ता

गुजरात में 7,581 कोरोनावायरस के मामले, 277 की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने प्रेस वार्ता में कहा कि सक्रिय मामलों और भारत में संक्रमण से उबरने वालों के बीच का अंतर उत्तरोत्तर बढ़ रहा है। देश में पुनर्प्राप्त मामले सक्रिय मामलों की तुलना में लगभग 2 गुना अधिक हैं।

गुजरात के सूरत में सबसे अधिक 307 कोविद मामलों की एक दिवसीय स्पाइक दर्ज की गई। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि गुजरात के सूरत जिले में 307 कोरोनावायरस मामलों में सबसे अधिक एक दिन का स्पाइक दर्ज किया गया, जिसमें संक्रमण बढ़कर 7,581 हो गया, जबकि मरने वालों की संख्या छह से 277 हो गई।

जबकि अमेरिका ने 55,000 से अधिक नए मामले दर्ज किए। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने आर्थिक संबंधों को ताज़ा करने और यूएस-मैक्सिको-कनाडा व्यापार समझौते को शुरू करने के लिए, आंशिक रूप से अमेरिका में हिस्पैनिक प्रवासी से वोट हासिल करने के लिए बोली लगाने के लिए मेक्सिको के आंद्रेस मैनुअल लोपेज़ ओब्रेडोर की मेजबानी की। टेक्सास में रिपब्लिकन कन्वेंशन भी राज्य में बढ़ते मामलों के कारण रद्द कर दिया गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button