खास खबरदेश

WHO: कोरोना वायरस हवा में फैलने के रिपोर्ट को लेकर जरी किये नए निर्देश

Corona Virus दूषित सतहों के संपर्क में आने या संक्रमित लोगों के साथ निकट संपर्क से फैलता है, जो किसी संक्रमित व्यक्ति के खांसने, छींकने, बोलने या गाने के दौरान लार, श्वसन स्राव या बूंदों के माध्यम से वायरस को फैलाते हैं

CORONA VIRUS LATEST UPDATE: WHO ने 09 July को Aerosol Transmission की संभावना का सुझाव देते हुए नए दिशानिर्देश जारी किए, जिसमें एयरबोर्न ट्रांसमिशन की संभावना बताई गई है. जैसे कि Restaurant या Fitness Classes में, लेकिन WHO ने इस बात की पुष्टि करना बंद कर दिया कि वायरस हवा में फैलता है. संक्षिप्त ने कहा कि “Corona Virus दूषित सतहों के संपर्क में आने या संक्रमित लोगों के साथ निकट संपर्क से फैलता है, जो किसी संक्रमित व्यक्ति के खांसने, छींकने, बोलने या गाने के दौरान लार, श्वसन स्राव या बूंदों के माध्यम से वायरस को फैलाते हैं.”

WHO ने यह भी कहा कि वायरस उन लोगों द्वारा फैलाया जा सकता है, जिनमें इसके लक्षण भी नहीं हैं. “संक्रमित लोग वायरस को तब प्रसारित कर सकते हैं, जब उनके लक्षण होते हैं या तब भी जब उनके लक्षण नहीं होते हैं,” WHO ने इससे पहले, कहा था कि asymptomatic transmission शायद “बहुत दुर्लभ है. विशेषज्ञों की राय है कि हालांकि संक्षिप्‍त में किए गए दोनों संशोधन लंबे समय से थे, लेकिन वे उतने व्यापक नहीं थे, जितनी उन्हें उम्मीद थी.

WHO के नए दिशानिर्देश बताते हैं कि लोगों को भीड़ से बचना चाहिए और सामाजिक गड़बड़ी के अलावा इमारतों में अच्छा वेंटिलेशन सुनिश्चित करना चाहिए और जब शारीरिक गड़बड़ी संभव नहीं हो तो मास्क को प्रोत्साहित करें.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button