खास खबरधार्मिकलाइफस्टाइल

23 जुलाई को मनाई जाएगी हरियाली तीज, शुभ मुहूर्त, हरियाली तीज का महत्व, हरियाली तीज व्रत विधि

हरियाली तीज व्रत विधि

नई दिल्ली: श्रावण मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरियाली तीज मनाई जाती है. इस बार हरियाली तीज 23 जुलाई यानी गुरुवार को मनाई जाएगी. हरियाली तीज सुहागिन औरतों के लिए बेहद खास माना जाता है. इस दिन महिलाएं व्रत रखती हैं. और सावन के झूले झूलती है. हरियाली तीज का व्रत सुहागिन औरतें पति की लंबी उम्र के लिए रखती हैं. हरियाली तीज में महिलाएं एकसाथ मिलकर भजन व लोक गीत गाती हैं. हरियाली तीज में महिलाएं पूरा दिन बिना भोजन और जल के ग्रहण किए रहती हैं, और दूसरे दिन सुबह स्नान और पूजा के बाद व्रत का पारण करती हैं.

हरियाली तीज शुभ मुहूर्त
हरियाली तीज का शुभ मुहूर्त
श्रावण तृतीया आरम्भ: 22 जुलाई शाम 7 बजकर 23 मिनट
श्रावण तृतीया समाप्त: 23 जुलाई शाम 5 बजकर 4 मिनट तक

हरियाली तीज व्रत विधि
– इस दिन साफ-सफाई कर घर को तोरण-मंडप से सजायें. मिट्टी में गंगाजल मिलाकर शिवलिंग, भगवान गणेश और माता पार्वती की प्रतिमा बनाएं और इसे चौकी पर स्थापित करें.
– मिट्टी की प्रतिमा बनाने के बाद देवताओं का आह्वान करते हुए षोडशोपचार पूजन करें.
– हरियाली तीज व्रत का पूजन रातभर चलता है. इस दौरान महिलाएं जागरण और कीर्तन भी करती हैं.
– इस दिन महिलाएं सोलह श्रृंगार करके निर्जला व्रत रखती हैं और पूरी विधि-विधान से मां पार्वती और भगवान शिव की पूजा करती हैं.

हरियाली तीज का महत्व
तीज पर महिलाएं शिव-पार्वती की आराधना करके अपने मंगलमय दांपत्य जीवन की कामना करती हैं. तीज न सिर्फ सुखी दांपत्य जीवन की कामना का पर्व है, पूरे परिवार के सुखमय जीवन की कामना का भी पर्व है. दांपत्य जीवन अगर खुशहाल है तो पूरा परिवार खुशहाल होगा ही.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button