खास खबरखेलदेश

आईपीएल 2020 के लिए यूएई नहीं जाएंगे कमेंटेटर, अपने घर से ही करेंगे कमेंट्री!

प्रसारण क्षेत्र से जुड़े विशेषज्ञों का मानना है कि भविष्य में दुनिया के किसी भी स्थान से कमेंट्री करना आम बात हो सकती है

नई दिल्ली: कोरोना की वजह से इंडियन प्रीमियर लीग 2020 (IPL 2020) का आयोजन देश से बाहर यूएई में होने वाला है.

दुनिया के इस सबसे बड़े टूर्नामेंट में एक बदलाव देखने को मिल सकता है. खबरों के मुताबिक आईपीएल प्रसारक हाल में एक प्रदर्शनी मैच में सफल प्रयोग करने के बाद दुनिया की सबसे बड़ी लीग में भी ‘वर्चुअल कमेंट्री’ शुरू करने पर विचार कर रहे हैं.

दक्षिण अफ्रीका के सेंचुरियन पार्क में रविवार को खेले गये 3टीसी मैच की कमेंट्री पूर्व खिलाड़ियों ने घर से की थी. इस मैच में इरफान पठान ने बड़ौदा में अपने घर से, दीप दासगुप्ता ने कोलकाता और संजय मांजरेकर ने मुंबई स्थित अपने आवास से कमेंट्री की थी. आईपीएल में वर्चुअल कमेंट्री?

ऑलराउंडर इरफान पठान

अपने घर से सैकड़ों किलोमीटर दूर हो रहे मैच की अपने घर से कमेंट्री करने के अनुभव को ऑलराउंडर इरफान पठान ने ‘जादुई’ करार दिया था.

कोविड-19 महामारी के कारण विश्व में लगातार नये बदलाव हो रहे हैं और ऐसे में आईपीएल प्रसारक स्टार स्पोर्ट्स ने भी सेंचुरियन पार्क में तीन टीमों के बीच खेले गये 36 ओवर के मैच में ‘वर्चुअल कमेंट्री’ (Virtual Commentary) का प्रयोग किया था.

केवल कमेंटेटर ही नहीं बल्कि इससे जुड़े कर्मचारी भी देश के अन्य हिस्सों से ‘लॉग इन’ थे जबकि निदेशक मैसूर में बैठकर सब पर नजर रखे हुए थे.

क्या होगा आईपीएल में बड़ा प्रयोग?

अगर कुछ शुरुआती मसलों को छोड़ दिया जाए तो यह प्रयोग सफल रहा और आगामी आईपीएल में भी ऐसा हो सकता है. भले ही हिन्दी और अंग्रेजी कमेंट्री में ऐसा न हो लेकिन क्षेत्रीय भाषाओं जैसे तमिल, तेलुगु और कन्नड़ में इसकी शुरुआत की जा सकती है.

पठान ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘यह असाधारण अनुभव था हालांकि हम पूरे समय चिंतित थे क्योंकि इंटरनेट स्पीड ऊपर नीचे हो सकती थी और इससे आवाज की क्वालिटी पर असर पडता. जब मैच का सीधा प्रसारण हो रहा हो तब कुछ भी हो सकता है क्योंकि टेक्नोलोजी पूरी तरह से आपके नियंत्रण में नहीं है. ‘

आईपीएल में घर से कमेंट्री करना बहुत बड़ी चुनौती

उन्होंने कहा, ‘भले ही यह प्रदर्शनी मैच था लेकिन हर कोई इसे गंभीरता से ले रहा था क्योंकि सभी चाहते थे कि खेल फिर से बहाल हो. स्टार अपनी योजना अच्छी तरह से बनाता है लेकिन आईपीएल में घर से कमेंट्री करना बहुत बड़ी चुनौती होगी.

‘ इस पूर्व ऑलराउंडर ने कहा कि वह एक कमरे में अकेले बैठ गये थे ताकि कोई उनका ध्यान न बांटे लेकिन उनका बेटा समय समय पर दरवाजा खटखटाता रहा. आईपीएल के दौरान मुंबई में बैठकर पैनल चर्चा होती रहती है जिसका कि पठान भी हिस्सा रहे हैं. प्रसारण क्षेत्र से जुड़े विशेषज्ञों का मानना है कि भविष्य में दुनिया के किसी भी स्थान से कमेंट्री करना आम बात हो सकती है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button