खास खबरदेश

दर्दनाक हादसा : खेल-खेल में कार के अंदर लॉक हुए 5 बच्चे… दम घुटने से 4 की दर्दनाक मौत…

1 की हालत गंभीर

बागपत। बागपत जनपद के चांदीनगर थाना क्षेत्र के सिंगौली तगा गांव में दम घुटने से चार बच्चो की मौत हो गयी। जबकि एक की हालत खराब है। गाड़ी में अंदर बंद हो जाने के कारण यह हादसा हुआ है। परिजनों की मांग पर पुलिस ने बच्चों के शवों का पोस्टमार्टम कराने की कवायद शुरू कर दी है। शाम सात बजे तक परिजनों ने बच्चों के शवों को पुलिस को नहीं दिया था।

 

सिंगौली तगा गांव में गांव के बाहर खडी गाडी में बच्चे छुपा-छुपाई खेल रहे थे। मकान मालिक घर पर नहीं थे। इसी दौरान पांचों बच्चे गाड़ी के अंदर फंस गये। गाड़ी लाॅक हो जाने के कारण चारों बच्चों की गाड़ी में ही मौत हो गयी जबकि मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने गाड़ी का शीशा तोड़कर एक बच्चे को सुरक्षित बाहर निकाल लिया और उपचार कराया।

गाड़ी के अंदर फंस जाने से हुआ दर्दनाक हादसा

इस हादसे में आठ वर्षीय नियति पुत्री संदीप, चार वर्षीय वंदना पुत्री संदीप, व चार वर्षीय अक्षय पुत्र विकास, सात वर्षीय कृष्णा पुत्र विकास की मौत हो गयी। मौके पर पहुंचे सीओ मंगल सिंह रावत का कहना है कि पांच बच्चे खेल रहे थे गाड़ी में फंस जाने के कारण यह हादसा हुआ है। परिजनों की मांग पर आगे की वैधानिक कारवाई की जा रही है।

दोपहर ग्यारह बजे से बाहर थे बच्चे

पजिनों का कहना है कि बच्चे दोपहर ग्यारह बजे से घर से बाहर खेल रहे थे। जब काफी समय तक वे घर नहीं पहुंचे तो उनकी तलाश की गयी। गाडी के पास जब गांव निवासी अनिल अपना ट्रेक्टर लेकर पहुंचा तो उसने गाडी में बच्चो को फंसा देखा और गाडी का शीशा तोडकर बच्चों को बाहर निकाला ओर परिजनों को सूचना दी।

 

परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

चार बच्चों की मौत से गांव में भीड तो दिखाई दी लेकिन गम का सन्नाटा पसरा रहा। मृतक बच्चों के परिजनों ने गाडी मालिक पर लापरवाई का आरोप लगाया है। सीओ मंगलसिंह रावत ने मामले की जांच का आश्वासन दिया है।

गाड़ी की एक खिडकी बनी मौत का कारण

गांव वालों का कहना है कि गाडी मालिक ने गाडी को लाॅक नहीं किया था। अगर गाडी लाॅक होती तो यह हादसा नहीं होता। गाडी की एक खिडकी खुली थी जिससे बच्चे अंदर चले गये और दरवाजा बंद कर लिया। गाडी का दरवाजा बंद होते ही गाडी अंदर से लाॅक हो गयी। धूप में खडी गाडी के अंदर गैस बन गयी जिसके कारण चारों बच्चों की मौत हो गयी।

जिलाधिकारी ने जताया दुःख

चार बच्चों की मौत की घटना पर जिलाधिकारी राजकमल यादव ने गहरा दुःख व्यक्त किया है और परिजनों को सात्वंना दी है। जिलाधिकारी ने कहा हैं हादसा दर्दनाक है, हमारी छोटी सी लापरवाई कभी-कभी बडी खतरनाक हो जाती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button