खास खबरछत्तीसगढ़

बेटी को घर में अकेले पाकर बिगड़ी पिता की नियत, कई महीनों से करता रहा दुष्कर्म

ऐसे हुआ माँ को संदेह

कोरबा। दर्री की फर्टिलाइजर बस्ती में सौतेला पिता 16 वर्षीय बेटी को धमकाकर कई माह से उससे दुष्कर्म कर रहा था। किशोरी को पेट दर्द होने लगा तो उसकी मां को 4 माह के गर्भ ठहरने का पता चला। मां की रिपोर्ट पर पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार दर्री फर्टिलाइजर बस्ती निवासी महिला ने पहले पति की मौत के बाद दूसरा पति बनाया। कुछ साल के बाद उसने महिला को छोड़ दिया। फिर महिला ने 8 साल पहले सालिकराम यादव को तीसरा पति बनाया। तब पहले पति से 8 साल की बेटी थी। सालिकराम ने उसे बेटी की तरह स्वीकार किया। सालिकराम से दो बच्चे हुए। सालिकराम की सौतेली बेटी के 16 साल की होने पर नीयत खराब हो गई। 5-6 माह से वह पत्नी की गैर मौजूदगी में बेटी को धमकाकर उससे दुष्कर्म करने लगा। डर से किशोरी चुप रहीए लेकिन 2 दिन पहले किशोरी ने अपनी मां को पेट में दर्द होने की जानकारी दी। पेट फूलने और दर्द बताने पर मां को उसके गर्भवती होने का संदेह हुआ। उसने बेटी से जब कारण पूछा तो उसने सौतेले पिता की करतूत बताई। माहवारी रुकने की तिथि बताने पर 4 माह के गर्भ होने का पता चला।

शनिवार को मां अपनी बेटी को लेकर दर्री थाना पहुंचीए जहां उसने अपने पति और आरोपी पिता के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी सालिकराम को गिरफ्तार कर लिया। पीडि़ता का नाना गांव अजगरबहार.बालको में है। पीडि़ता ने बताया कुछ माह पहले वह अजगरबहार गई थी तो वहां के एक किशोर ने उससे दुष्कर्म किया था। दर्री पुलिस ने शून्य पर दुष्कर्म का मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई के लिए प्रकरण की डायरी बालको थाना भेज दी है। किशोरी के पेट में ठहरे गर्भ किस ओर से हैए यह उसकी डिलवरी के बाद होने वाले शिशु के डीएनए टेस्ट से पता चलेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button