खेलदेश

IPL 2021 : KKR के साथ हुई ‘नाइंसाफी’ को नहीं देख सके Gautam Gambhir, अंपायर्स पर लगाया ये बड़ा इल्जाम

 

नई दिल्ली: आईपीएल 2021 के 45वें मैच में पंजाब किंग्स ने केकेआर को 5 विकेट से मात दी. इस मैच में पंजाब के कप्तान केएल राहुल ने एक शानदार फिफ्टी जड़ कर अपनी टीम को जीत दिलाई. लेकिन इसी मैच में एक घटना ऐसी भी हुई जिसके चलते बड़ा विवाद खड़ा हो गया है. इस मैच के बाद लगातार मैदानी अंपायरों को निशाने पर लिया जा रहा है.

इस मैच में पंजाब की बल्लेबाजी के दौरान केएल राहुल जब शानदार बल्लेबाजी कर रहे तो अंतिम समय में केकेआर के फील्डर राहुल त्रिपाठी ने उनका एक शानदार कैच लपका. लेकिन इस कैच पर बड़ा बवाल मच गया है. दरअसल पंजाब की पारी के दौरान 19वां ओवर शिवम मावी फेंकने आए. इस ओवर की एक गेंद पर राहुल ने हवा में एक शॉट खेला, लेकिन बाउंड्री पर दौड़ते हुए त्रिपाठी ने उनका शानदार कैच लपका. लेकिन मैदानी अंपायरों ने इस कैच का निर्णय थर्ड अंपायर को सौंपा. लंबे समय तक इस कैच का रीप्ले देखने के बाद थर्ड अंपायर ने फैसला किया कि गेंद मैदान को टच कर रही है और उन्होंने राहुल को नॉट आउट दे दिया.

 

कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के पूर्व कप्तान गौतम गंभीर और इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर ग्रीम स्वान ने केकेआर और पंजाब किंग्स के बीच खेले गए आईपीएल 2021 के मुकाबले के दौरान राहुल त्रिपाठी के महत्वपूर्ण कैच को मान्य नहीं करार देने पर तीसरे अंपायर की आलोचना की है. लोकेश राहुल की कप्तानी वाली पंजाब की टीम ने केकेआर को पांच विकेट से हराया था. इस मैच का नतीजा कुछ और हो सकता था अगर त्रिपाठी के जरिए पकड़ा गया कैच अमान्य नहीं करार दिया गया होता. जिस वक्त त्रिपाठी ने कैच पकड़ा उस समय पंजाब को नौ गेंदों पर 11 रनों की जरूरत थी.

राहुल त्रिपाठी ने बाउंड्री पर डाइव लगाकर बेहतरीन कैच पकड़ा लेकिन मैदानी अंपायर आश्वस्त नहीं थे कि उन्होंने सही तरीके से कैच पकड़ा है या नहीं. इसके बाद यह फैसला तीसरे अंपायर पर छोड़ा गया. तीसरे अंपायर अनिल दांदेकर ने विभिन्न एंगल से कैच को देखा और नॉट आउट देने का फैसला किया मैच के बाद गंभीर और स्वान ने तीसरे अंपायर की आलोचना की. गंभीर ने स्टार स्पोटर्स से कहा, ‘यह चौंकाने वाला था, इससे किसी का अभियान समाप्त हो सकता है. उन्हें रीप्ले को एक से अधिक बार नहीं देखना चाहिए था. अगर उन्होंने राहुल को आउट कर दिया होता तो हालात कुछ और होते. हम आईपीएल में इस तरह के झटके नहीं बर्दाशत कर सकते हैं.’ स्वान ने कहा, ‘यह थर्ड अंपायरिंग का सबसे खराब फैसला था जिसे मैंने अब तक नहीं देखा है.’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button