अपराधछत्तीसगढ़देश

BREKING : कांग्रेस नेता के बेटे की हत्या, छत्तीसगढ़ पुलिस में तैनात जवान पर लगा आरोप,जानिए क्या है पूरा मामला

 

बक्सर जिले के ब्रह्मपुर थाने के गहौना पैक्स अध्यक्ष व कांग्रेस नेता प्रभुदत्त ओझा के कथित रूप से अगवा पुत्र का शव मंगलवार की सुबह हीरपुर गांव के समीप धर्मावती नदी के किनारे मिला। पुलिस ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए हीरपुर गांव से दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया। दोनो सगे भाई हैं। हत्या में शामिल मृत युवक की प्रेमिका के पति समेत तीन फरार बताये जा रहे हैं। घटना का कारण प्रेम-प्रसंग का मामला बताया गया है। एसपी नीरज कुमार सिंह ने बताया कि गहौना पैक्स अध्यक्ष सह कांग्रेस नेता प्रभुदत्त ओझा का पुत्र विपिन बिहारी 2 अक्टूबर को मोबाइल पर बात करने के बाद अपने एक दोस्त की बाइक लेकर शाम 8 बजे घर से निकला था। रात को वापस नहीं लौटा तो परिजनों ने खोजबीन करते हुए ब्रह्मपुर थाने में एफआईआर दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गई।

जांच के क्रम में पुलिस को पता चला कि युवक का अपहरण नहीं किया गया है। बल्कि प्रेम प्रसंग की बात सामने आ रही है। पुलिस गोपनीय तरीके से मोबाइल सर्विलांस का सहारा लेकर जांच कर रही रही थी कि मंगलवार को हीरपुर गांव के समीप धर्मावती नदी के किनारे से युवक का शव बरामद कर लिया गया। पुलिस ने लाश बरामद करने के बाद पाया कि युवक की धारदार हथियार से हत्या कर साक्ष्य मिटाने की नीयत से शव को नदी में फेंक दिया गया था। Also Read – क्रिकेटर युजवेंद्र चहल की पत्नी ने लगाए ठुमके, सोशल मीडिया पर छाया वीडियो एसपी ने बताया कि मृत युवक का हीरपुर गांव की एक विवाहित युवती से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। प्रेम-प्रसंग युवती की शादी के बाद भी जारी रहा। प्रेमिका का पति छत्तीसगढ़ पुलिस बल में तैनात है। पत्नी का दूसरे युवक से प्रेम प्रसंग पति को नागवार गुजर रहा था। इसी के चलते पति के कहने पर युवती ने विपिन को मिलने के लिए हीरपुर में 2 अक्टूबर को बुलाया। युवक के पहुंचने पर पति व ससुरालवालों ने कथित तौर पर मिलकर उसकी हत्या कर दी। एसपी ने बताया कि हत्या के मामले में युवक की प्रेमिका के दो सगे भाइयों- अजय चौबे व विजय चौबे को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

दोनों के पिता का नाम कन्हैया चौबे बताया गया है। इनके अलावा इस हत्याकांड में संलिप्त प्रेमिका के पति व भोजपुर जिले के शाहपुर थाने के सोनवर्षा गांव निवासी रवि मिश्रा, युवती के पिता कन्हैया चौबे व युवती की तलाश पुलिस कर रही है। गिरफ्तारी टीम में डुमरांव एसडीपीओ श्रीराज, ब्रह्मपुर थानाध्यक्ष निर्मल कुमार, डीआईयू के राहुल कुमार, आलोक कुमार, आलोक कुमार सिंह और डीआईयू की टीम थी। एसपी ने बताया कि हत्या के मामले में आरोपित प्रेमिका और उसके पति रवि मिश्रा समेत तीन फरार है। सभी फरार आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी की जा रही है। कांग्रेस नेता के बेटे की शादी भी तीन साल पहले हो चुकी थी। उसकी शादी बक्सर शहर के एक मुहल्ले में हुई थी। उसको दो साल का एक बेटा भी है। मृतक युवक तीन भाइयों में सबसे बड़ा था। उसकी शादी हो जाने के बाद भी अवैध संबंध व प्रेम प्रसंग युवती के साथ चलते रहे। बताया जा रहा है कि प्रेम-संबंध बरकरार रखने को लेकर वह अपनी प्रेमिका को टॉर्चर भी करता था। इसी कारण प्रेमिका का प्रेम संबंध खत्म नहीं हो रहा था। इस घटना के बाद से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया है। सदर विधायक संजय कुमार तिवारी, कांग्रेस नेता बलिराज ठाकुर, टीएन चौबे, बजरंगी मिश्रा, लालबाबू मिश्रा, व भाजपा नेता धीरेंद्र तिवारी उर्फ छोटे तिवारी आदि ने शोकाकुल परिवार को सांत्वना दी।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button