छत्तीसगढ़देश

CG BREAKING : संगीत विश्वविद्यालय में करोड़ो की गड़बड़ी का हुआ खुलासा, जाने क्या है मामला

दुर्ग । एशिया के एक मात्र सबसे बड़े कला-संगीत संस्थान के रूप में प्रसिद्द इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ में बड़ा भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है। इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय में नई कुलपति पदमश्री डॉ. मोक्षदा चंद्राकर की पद ग्रहण करने के बाद इनके कार्यकाल में विभागीय पदोन्नति को लेकर शिकायतों का दौर चलने के साथ ही विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति के कार्यकाल में हुई निर्माण कार्यों में भ्रष्टाचार गड़बड़ी को लेकर शिकायतों के आधार पर कलेक्टर ने पीडब्ल्यूडी के चार अफसरों की एक टीम बनाई है और विश्वविद्यालय परिसर में किए गए निर्माण कार्यों के अनियमितताओं की जांच करने के आदेश दिए हैं।

देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में एशिया के सबसे बड़े कला-संगीत संस्थान के रूप में विख्यात इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ में भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है। गौरतलब है कि रूसा योजना के तहत विश्वविद्यालय में पिछले कुछ सालों के दौरान करोड़ों रुपए के निर्माण कार्य कराए गए हैं। उन निर्माण कार्यों में गुणवत्ता के अलावा निर्माण में लेटलतीफी तथा अन्य वित्तीय अनियमितताओं की शिकायतें रही हैं।

इन शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए प्रशासन ने जांच तय किया है। आपको बता दें कि पिछले कुछ सालों के दौरान की गई तमाम अनियमितताओं को दबाने के प्रयास भी यहां पर शुरू हो गए हैं। अनियमितताओं में शामिल विश्वविद्यालय के कई कर्मचारी इस मामले को दबाने के लिए अन्य मुद्दों पर विरोध की राजनीति कर रहे हैं, जिसके कारण विश्वविद्यालय में तनाव की स्थिति भी निर्मित हो रही है।

जानकारी अनुसार, कलेक्टर ने पीडब्ल्यूडी के चार कार्यपालन अभियंता स्तर के अधिकारियों की एक टीम बनाकर जांच के निर्देश दिए हैं। विश्वविद्यालय के सूत्रों की मानें तो जब से कुलपति बदली है, तब से यहां जारी कई खामियों पर लगाम कसा जा रहा है। ऐसे में पूर्व कुलपति के कार्यकाल में कराए गए तमाम निर्माण कार्यों की पोल-पट्टी भी खुल रही है। जाहिर है, उन कार्यों में विश्वविद्यालय के कुछ अधिकारियों और कर्मचारियों की भी लिप्तता रही है। कार्रवाई की आंच से बचने के लिए ऐसे कर्मचारी और अधिकारी अब कई हथकंडे अपना रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button