अपराध

इंदौर अपराध : बांग्लादेशी तस्कर मामून ने लड़कियां बेचकर 8 माह में कमाए 80 लाख रूपए

इंदौर: मानव तस्कर विजय दत्त उर्फ मामून उर्फ मामनूर लाखों रुपये महीने कमा रहा था।उसके खाते में 8 महीने 80 लाख रुपये का ट्रांजेक्शन हुआ है।इतनी बड़ी राशि देहव्यापार और लड़कियों की खरीद फरोख्त से अर्जित हुई है। पुलिस ने नाला सुपारा की निजी बैंक में खुला मामून का खाता सीज करवा दिया है।उन हवाला और हुंडी कारोबारियों की जांच चल रही है जिनके जरिए बांग्लादेश रुपये भिजवाए गए थे।

टीआइ तहजीब काजी के मुताबिक आरोपित विजय उर्फ मामून पुत्र वफज्जूल हुसैन,प्रमोद पुत्र शिवराम पाटीदार,बबलू उर्फ पलास पुत्र शिवराम पाटीदार,उज्जवल पुत्र द्वारकाप्रसाद ठाकुर सहित दीपा शेख,आकीजा शेख को रिमांड पर लिया है।

पुलिस ने उसके खाते की जांच की तो पता चला देश के विभिन्न शहरों से हजारों रुपये रोज जमा हो रहे है। स्टेटमेंट में खुलासा हुआ पिछले आठ माह में ही वह 80 लाख रुपये कमा चुका है। जिसका ज्यादातर हिस्सा पत्नी जौशना खातुन के पास बांग्लादेश भिजवा देता था। टीआइ के मुताबिक मामून ने चेन्नई में काजल और मुंबई में प्रिया नामक प्रेमिका को जिम्मा सौंप दिया था। दोनों युवतियां आर्डर मिलने पर लड़कियां सप्लाय कर मामून के खाते में रुपये जमा करवा देती थी।

दलाल और महिला ने फैलाया नेटवर्क

टीआइ के मुताबिक आरोपित मामून ने इंदौर में सैजल और बबलू की पत्नी के माध्यम से लड़कियां सप्लाय शुरु की। मांग ज्यादा होने से कम समय में उज्जवल,प्रमोद,मीना,आफरीन,आमरीन,दिलीप,ज्योति,पलक,सोनाली,परवेज,सोनू ठाकुर, का बड़ा नेटवर्क तैयार कर लिया। मुंबई में दलाल ज्यादा होने से वह इंदौर को मुख्य अड्डा बनाने की कोशिश कर रहा था। टीआइ के मुताबिक 42 आरोपित अभी तक पकड़ लिए है। अब नीलम,सत्तार,रुबी,जियाउल की तलाश है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button