पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को देशद्रोह के मामले में मौत की सजा

नई दिल्ली. पाकिस्तान से बड़ी खबर आ रही है. खबर ये है कि पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को फांसी की सजा सुनाई गई है. ये सजा का ऐलान पाकिस्तान की विशेष अदालत ने सुनाया है, बता दे कि वे अभी अपने देश में नहीं है, बल्कि वे अभी दुबई में है. यह सजा पाकिस्तान की स्पेशल कोर्ट ने सुनाई है. कोर्ट ने मुशर्रफ को 5 दिसंबर को आदेश जारी किए थे कि देशद्रोह के मामले में बयान दर्ज करवाएंपाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ की राजद्रोह मामले पर रोक की मांग करने वाली याचिका पर लाहौर उच्च न्यायालय ने सोमवार (16 दिसंबर) को संघीय सरकार को नोटिस जारी किया गया था, इस मामला इस्लामाबाद की विशेष अदालत में चल रहा थी. मुशर्रफ मार्च 2016 से दुबई में रह रहे हैं. वह संविधान को भंग करने और 2007 में आपात शासन लगाने के मामले में राजद्रोह के आरोपों का सामना कर रहे थे. 76 वर्षीय मुशर्रफ उपचार के लिए दुबई गए थे लेकिन तब से सुरक्षा और स्वास्थ्य कारणों का हवाला देकर लौटे नहीं है. पाकिस्तान की एक अदालत ने पूर्व राष्ट्रपति को भगोड़ा करार दिया है. उन पर 3 नवंबर 2007 को पाकिस्तान पर इमरजेंसी लगाने के लिए देशद्रोह का केस दर्ज किया गया था. इस मामले में दिसंबर 2013 में सुनवाई शुरू हुई थी.

मुशर्रफ को भगोड़ा घोषित किया जा चुका था

मुशर्रफ ने 1999 से 2008 तक पाकिस्तान में शासन किया. पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो और लाल मस्जिद के धार्मिक गुरु की हत्या के मामले में उन्हें भगोड़ा घोषित किया जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *