बिना भीड़भाड़ के घरों में लोगों को मिल रही सहायता : सुशील शुक्ला

रायपुर: प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने प्रशासन के माध्यम से जरुरतमंदों तक राहत सामग्री पहुंचाए जाने के पीछे भाजपा का तर्क बताते हुए कहा कि भाजपाइयों को पीड़ा इस बात की है कि अब एक केला दान करते हुए चार उनके नेताओं को फोटो खिंचाने का अवसर नहीं मिल रहा.

प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपाई अपनी फोटो छपाने और श्रेय लेने की भूख में लोगों का जीवन संकट में डालना चाह रहे हैं. राज्य सरकार ने फिजिकल डिटेंसिग को बनाये रखने तथा कम से कम लोगों को लॉकडाउन के दौरान घर से बाहर निकलने देने के उद्देश्य से गरीब और जरूरतमन्दों को सहायता सामग्री प्रशासन के द्वारा पहुंचाने का निर्णय लिया गया है.

उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था का फायदा यह हुआ कि लोगों को सहायता बिना भीड़भाड़ के उनके घरों में मिल रही है. सहयोगी लोग भी शासन के माध्यम से सहायता दे रहे है. फिजिकल डिस्टेंसिग के साथ सहायता देने के नाम पर फोटो खिंचवा कर सोशल मीडिया में जरूरतमंदों का मखौल उड़ाने की परम्परा पर भी विराम लगा है.

सुशील शुक्ला ने कहा कि दानदाताओं और समाजसेवी संस्थाओं के उत्साह को बनाये रखने के लिए कलेक्टरों को दानदाताओं के नाम का उल्लेख करने को कहा गया है, साथ ही शासकीय वाहन को सहायता सामग्री देते समय फोटो ग्राफी की भी अनुमति है. भाजपा के नेता यदि वास्तव में लोगों की सहायता करना चाहते हैं, तो स्थानीय प्रशासन के सहयोग से करें.